बिजनेस डेस्क (नरेश अरोड़ा): सदियों से भरोसेमंद निवेश का प्रतीक रहा सोना एक बार फिर चर्चा में है। साल की पहली तिमाही में निवेशकों को नेगेटिव रिटर्न देने वाली पीली धातु पिछले दो महीने से लगातार चमक रही है। अंतर्राष्ट्रीय बाजार में जहां इसकी कीमतें एक बार फिर 1900 डॉलर प्रति औंस के पार निवेश के रूप में सोना निवेश के रूप में सोना पहुंच गई हैं वहीं घरेलु बाजार में भी सोना 50 हजार रुपए के पार पहुंच गया है। ऐसे में निवेशकों को अपने पोर्टफोलियो में मौजूद सोने के निवेश में बने रहना चाहिए क्योंकि अंतर्राष्ट्रीय हालात इसकी कीमतों में और ज्यादा तेजी के संकेत दे रहे हैं।

डिजिटल गोल्ड में निवेश करने के फायदे और नुकसान

ज्यादातर इन्वेस्टर्स के पोर्टफोलियो में गोल्ड जरूर होता है क्योंकि निवेश के रूप में सोना इसने कई सालों से लगातार बढ़िया रिटर्न दिया है। पहले हम फिजिकल गोल्ड में निवेश किया करते थे, लेकिन इसमें डिजिटल गोल्ड के मुकाबले अधिक जोखिम होता था। लेकिन अब कई ऑनलाइन पोर्टल और स्टॉक ब्रोकर्स के जरिए डिजिटल गोल्ड में निवेश किया जा सकता है। जोकि निवेश के रूप में सोना फिजिकल गोल्ड में निवेश की तुलना में काम जोखिम भरा होता है, लेकिन इसमें निवेश करने के कुछ फायदे और नुकसान दोनों हैं जिनके बारे में अधिक जानकारी के लिए डिजिटल गोल्ड में निवेश और इससे जुडी बातों को विस्तार से जानना बहुत जरुरी है।

Earn Instant Cash upto Rs. 1000 - Download Wizely today!

महामारी में भी चमका: अब भी निवेश का विकल्प है सोना

सोना पिछले दिनों कोरोना महामारी में ऐसा चमका कि आंखें चौंधिया गईं। हर किसी की पसंद था सोना, नतीजतन उसकी कीमत 55,000 रुपये प्रति 10 ग्राम से भी ऊपर चली निवेश के रूप में सोना गई। लेकिन जैसे-जैसे महामारी की वैक्सीन बाजार में उतरती गई, वैसे-वैसे सोने की कीमत में भी उतार आता गया। शेयर बाजार की तेजी से भी वह ऊपर-नीचे होता रहा। इसी कड़ी में यह गिरकर 45,000 रुपये रह गया।

सोना हमेशा निवेश का सुरक्षित माध्यम माना जाता रहा है। महामारी के बावजूद वित्त वर्ष 2020-21 में हमने 2.5 खरब रुपये का सोना खरीदा था। जबकि उसके पिछले साल देश में 1.9 खरब रुपये के सोने की खरीदारी हुई थी। पिछले एक दशक में भारत में सालाना औसतन 800-900 टन सोने का आयात किया गया निवेश के रूप में सोना है। हमने अन्य माध्यमों की तुलना में सोने को हमेशा तरजीह दी। इसका कारण यह है कि सोना थोड़ा-सा भी खरीदा जा सकता है, जबकि निवेश के अन्य साधनों में यह विशेषता नहीं है। सोने के साथ एक और बड़ी बात है कि यह कभी भी बिक सकता है और कहीं भी इसे खरीदा जा सकता है। यूरोप और अमेरिका में सोने के गहने पहनने का रिवाज नहीं, पर वहां के सेंट्रल बैंक अपने पास पर्याप्त मात्रा में सोना रखते हैं। यह उनकी अर्थव्यवस्था को उतार-चढ़ाव से बचाता है। भारतीय रिजर्व बैंक के पास भी 706 टन सोना है और यह दुनिया में दसवें स्थान पर है। यह रिजर्व सोना हमें विदेशी करेंसी के उतार-चढ़ाव से बचाता है।

डिजिटल गोल्ड में निवेश करने के फायदे और नुकसान

ज्यादातर इन्वेस्टर्स के पोर्टफोलियो में गोल्ड जरूर होता है क्योंकि इसने कई सालों से लगातार बढ़िया रिटर्न दिया है। पहले हम फिजिकल गोल्ड में निवेश किया करते थे, लेकिन इसमें डिजिटल गोल्ड के मुकाबले अधिक जोखिम होता था। लेकिन अब कई ऑनलाइन पोर्टल और स्टॉक ब्रोकर्स के जरिए डिजिटल गोल्ड में निवेश किया जा सकता है। जोकि फिजिकल गोल्ड में निवेश की तुलना में काम जोखिम भरा होता है, लेकिन इसमें निवेश करने के कुछ फायदे और नुकसान दोनों हैं जिनके बारे में अधिक जानकारी के लिए डिजिटल गोल्ड में निवेश और इससे जुडी बातों को विस्तार से जानना बहुत जरुरी है।

Earn Instant Cash upto Rs. 1000 - Download Wizely today!

आपको सोने में निवेश क्यों करना चाहिए? जानें ऐसे 5 कारण जो गोल्ड इन्वेस्टमेंट को बनाते है सबसे बेहतर

Gold Investment: माना जाता है कि सोने और इक्विटी का उलटा संबंध होता है। जिसका अर्थ है कि जब शेयर मूल्य में गिरते हैं तो सोने का मूल्य बढ़ता है। ऐसे ही 5 और कारण इस पोस्ट में जानिए गोल्ड इन्वेस्टमेंट को बनाते है सबसे बेहतर।

Gold Investment: हमारे देश भारत में सोने को सदियों से निवेश के लिये सबसे उपयुक्त साधन माना गया है। यह निवेशकों के लिए एक सुरक्षित ठिकाना है माना जाता है, क्योंकि इसने हमेशा अपनी क्रय शक्ति को बनाए रखा है। लेकिन समय के साथ अब गोल्ड खरीदने का तरीका बदल निवेश के रूप में सोना गया है। डिजिटल गोल्ड ने सोने के निवेश को सहज और किफायती बनाकर लोगों के सोने को खरीदने और बेचने के तरीके में क्रांति ला दी है।

इस पोस्ट में हम आपको बताएंगे कि आपको सोने में निवेश क्यों करना चाहिए।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Tuesday special: आज जरूर करें ये काम, जाग जाएगी रूठी हुई किस्मत

Tuesday special: आज जरूर करें ये काम, जाग जाएगी रूठी हुई किस्मत

भारत में मादक पदार्थों और हथियारों के अवैध व्यापार के मामले में नौ श्रीलंकाई गिरफ्तार: एनआईए

भारत में मादक पदार्थों और हथियारों के अवैध व्यापार के मामले में नौ श्रीलंकाई गिरफ्तार: एनआईए

वायरल हुई Video के बाद महिला आयोग ने लिया सख्त Action, जानें क्या है मामला

वायरल हुई Video के बाद महिला आयोग ने लिया सख्त Action, जानें क्या है मामला

रेटिंग: 4.13
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 251