Coinswitch/WazirX/CoinDCX/Bitbns/Zebpay जैसे जानेमाने भारतीय क्रिप्टो एक्सचेंज को इंस्टॉल करें। किसी एक्सचेंज का चयन करने से पहले उसके बारे में पूरी जांच पड़ताल करें। केवाईसी वेरिफाई करने के बाद अपना अकाउंट बनाएं। ऐप पर अपनी बैंक डिटेल/यूपीआई डिटेल डालें। बैंक डिटेल/यूपीआई रजिस्टर्ड होने के बाद एक्सचेंज में क्या आपको डॉगकॉइन में निवेश करना चाहिए मनी एड करें। एक्सचेंज में पैसा जमा होने के बाद आप इसका इस्तेमाल Dogecoin या किसी अन्य क्रिप्टोकरेंसी को खरीदने में कर सकते हैं।

Buy Dogecoin India: Bitcoin से कई गुना ज्यादा रिटर्न दे रही Dogecoin, यहां जानिए खरीदने का तरीका

how to buy dogecoin in india see here step by step process

Buy Dogecoin India: Bitcoin से कई गुना ज्यादा रिटर्न दे रही Dogecoin, यहां जानिए खरीदने का तरीका

Dogecoin की शुरुआत मजाक के तौर पर हुई थी लेकिन सोशल मीडिया और मीम्स की ताकत की बदौलत आज यह दुनिया की सबसे लोकप्रिय क्रिप्टोकरेंसीज में शुमार है। Dogecoin की शुरुआत सॉफ्टवेयर इंजीनियर Billy Markus और Jackson Palmer ने 2013 में एक मजाक के रूप में की थी। टेस्ला और स्पेसएक्स के सीईओ एलन मस्क ने इस साल ने Dogue मैगजीन की एक फोटो क्या आपको डॉगकॉइन में निवेश करना चाहिए पोस्ट की थी जिसमें एक डॉग को लाल स्वेटर पहने दिखाया गया था। इससे Dogecoin की कीमत में काफी उछाल आई थी।

मस्क का मिला साथ

मस्क ने Dogecoin के सपोर्ट में फरवरी में कई ट्वीट किए थे। पहले ट्वीट में उन्होंने केवल Doge लिखा। फिर उन्होंने लिखा, 'Dogecoin is क्या आपको डॉगकॉइन में निवेश करना चाहिए the people's crypto'। इससे अगले ट्वीट में उन्होंने लिखा, 'No highs, no lows, only Doge'. बस फिर क्या था, इस क्रिप्टोकरेंसी की कीमत उछलकर 5 सेंट जा पहुंची। मस्क के ट्वीट्स से पहले यह 3 सेंट पर ट्रेड कर रही थी। यह पहला मौका नहीं है जब मस्क के ट्वीट से Dogecoin की कीमत में तेजी आई है। इससे पहले 20 दिसंबर को भी उन्होंने One Word: Doge ट्वीट किया था और इसकी कीमत 20 फीसदी बढ़ गई थी।

मार्केट कैप 2.25 लाख करोड़ डॉलर से अधिक

-2-25-

हाल के दिनों में क्रिप्टोकरेंसीज में निवेशकों ने दिलचस्पी दिखाई है। इससे क्रिप्टोकरेंसीज का मार्केट कैप 2.25 लाख करोड़ डॉलर से अधिक पहुंच गया है। PayPal से लेकर Square तक कई कंपनियों ने अपने सिस्टम्स पर बिटकॉइन में लेनदेन की सुविधा दी है। Morgan Stanley जैसी वॉल स्ट्रीट कंपनियों ने अपने कुछ अमीर ग्राहकों को टोकन्स का एक्सेस देना शुरू कर दिया है।

पहले वर्चुअल करेंसी के बारे में जानें

हालांकि इस भारी रिटर्न के बहकावे में आने से पहले हमें वर्चुअल करेंसी को समझना चाहिए. बाजार में ऐसे बहुत से कॉइन हैं, जो बिना यूज के भी जबरदस्त लोकप्रिय हो चुके हैं. सोशल मीडिया इंफ्लूएंजर लगातार इनका प्रचार कर रहे हैं. उदाहरण के लिए, करीब दो हफ्ते पहले Elon Musk ने अपने पेट डॉग Floki के बारे में ट्वीट किया. इसकी वजह से इस थीम पर आधारित कॉइन में जोरदार उछाल आया. सबसे ज्यादा फायदा मीम कॉइन (meme coin) Shiba Inu को हुआ.

Money9 के लिए लिखे एक कॉलम में Zebpay के मुख्य अधिकारी विक्रम रंगाला ने बताया, ‘इसकी अवधारणा बहुत सरल है. जब बहुत से लोग एक चीज पर भरोसा करने लगते हैं, तो उसका मूल्य बढ़ जाता है. इन करेंसी के साथ भी यही हो रहा है. लोग एक पेपर के टुकड़े को वैल्यू का टोकन मान रहे हैं. जब किसी देश के सभी लोग ऐसा करते हैं, तो इसकी एक वैल्यू हो जाती है और यह विनिमय का साधन बन जाता है.’

वैल्यू क्या है

Dogecoin भी इसी तरह की वर्चुअल करेंसी है. Elon Musk ने इसके बारे में ट्वीट करते हुए कहा था कि बिना किसी सरकारी मान्यता के Dogecoin मूल्यवान हो गया.

रंगाला बताते हैं कि जैसे ही ज्यादा से ज्यादा लोगों ने इसे खरीदा, इसकी वैल्यू बढ़ती गई. कुछ जगहों पर तो इसे पेमेंट के रूप में मान्यता तक मिल गई, जबकि Dogecoin की मूलभूत वैल्यू कुछ भी नहीं है. यह केवल एक ब्लॉकचैन सॉफ्टवेयर है, जो अनगिनत संख्या में कॉइन निर्माण करता है. यदि हमारे केंद्रीय बैंक भी ऐसा करने लगे, तो मंहगाई बढ़ेगी और करेंसी भरभरा कर गिर जाएगी.

क्या आपको निवेश करना चाहिए?

तो क्या आपको Dogecoin या Shiba Inu जैसी करेंसियों पर निवेश करना चाहिए? क्रिप्टोकरेंसी बहुत ज्यादा उतार-चढ़ाव वाले होते हैं और इनमें बहुत अधिक जोखिम होता है. कोई विशेष उद्देश्य होने पर ही इस टोकन करेंसी पर निवेश की सलाह दी जाती है.

रंगाला के मुताबिक, ‘आप उसी चीज में निवेश करते हैं, जिसकी कोई वैल्यू होती है. निवेश व्यक्तिगत फैसला होता है. सफल निवेशक किसी में एसेट में अंतर्निहित वैल्यू को देखते हैं. विभिन्न क्रिप्टो टोकन, जैसे कि Bitcoin और Ethereum में यह वैल्यू नजर आती है. इनकी तकनीक नई है, जिसने कई नए इनोवेशन किए हैं.’

क्रिप्टोकरेंसी से जुड़े लोग

इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि किसी भी क्रिप्टोकरेंसी में सबसे अहम बात यह है कि उसके साथ कौन लोग जुड़े हैं। किसी भी कंपनी की सफलता सीईओ और लीडरशिप टीम पर निर्भर करती है। इसी तरह आपको किसी क्रिप्टोकरेंसी को चलाने वाले लोगों और उनके विजन के बारे में आश्वस्त होना चाहिए। आपको यह देखना चाहिए कि फाउंडर्स ने खुद अपने कॉइन या प्रोजेक्ट में निवेश किया है या नहीं और उनका इतिहास तथा अनुभव कैसा है।

कम्युनिटी

किसी भी कॉइन की सफलता में उसके फॉलोअर्स की अहम भूमिका होती है। निवेश के लिए ऐसी कॉइन का चयन करें जिसे कम्युनिटीज का मजबूत सपोर्ट हासिल हो। यह किसी खास क्रिप्टोकरेंसी में लोगों के भरोसे और दिलचस्पी का संकेत है। आपको उनके यूट्यूब चैनल, रेडिट फोरम, टेलीग्राम, ट्विटर आदि को चेक करना चाहिए। किसी भी कॉइन या प्रोजेक्ट की जितनी बड़ी कम्युनिटी होगी, उसकी वैल्यू उतनी ही अधिक होगी।

वाइट पेपर

सफल प्रमोशन के लिए इनिशियल कॉइन ऑफरिंग्स (ICO) को वाइट पेपर लाने की जरूरत होती है। इसमें कॉइन का उद्देश्य, टेक्नोलॉजी, काम करने का तरीका और ओवरऑल विजन के बारे में जानकारी होती है। जानकारों के मानना है कि वाइट पेपर पढ़े बिना किसी क्रिप्टोकरेंसी में निवेश नहीं करना चाहिए। इसमें कॉइन से जुड़ी सारी बुनियादी बातें होती हैं। जितने ज्यादा वाइट पेपर आप पढ़ेंगे, उतनी ही बेहतर क्रिप्टोकरेंसी आप चुन पाएंगे।

टेक्नोलॉजी

क्रिप्टोकरेंसी में टेक्नोलॉजी की भूमिका काफी अहम है। उदाहरण के लिए अगर आप Ethereum को देखें तो इसमें कई तरह के ट्रांजैक्शंस का इस्तेमाल किया गया है। इसमें स्मार्ट कॉन्टैक्ट्स का इस्तेमाल होता है जिसका उपयोग बैंकिंग और फाइनेंशियल सेक्टर में होता है। इसलिए इस तरह की क्रांतिकारी टेक्नोलॉजीज को देखिए। इसमें जोखिम भी हैं। अगर कोई इनसें बेहतर सॉल्यूशन डेवलप कर लेता है तो उनकी अहमियत खत्म हो जाएगी। इसलिए इस पर बराबर नजर रखने की जरूरत है।

Navbharat Times News App: देश-दुनिया की खबरें, आपके शहर का हाल, एजुकेशन और बिज़नेस अपडेट्स, फिल्म और खेल की दुनिया की हलचल, वायरल न्यूज़ और धर्म-कर्म. पाएँ हिंदी की ताज़ा खबरें डाउनलोड करें NBT ऐप

क्या आपको डॉगकॉइन में निवेश करना चाहिए?

क्या आपको डॉगकोइन में निवेश करना चाहिए? कई विशेषज्ञ डॉगकोइन से पूरी तरह बचने की सलाह देते हैं। लघु लेनदेन चक्र, उच्च लेनदेन लागत, न्यूनतम तरलता, और धीमी पुष्टि समय कुछ कारण हैं। हालांकि, नए निवेशकों के लिए जिन्होंने हाल ही में इस नई वैकल्पिक मुद्रा के बारे में सुना है, और जो बाद में इस प्रवृत्ति को भुनाने की उम्मीद करते हैं, निराश न हों।

डॉगकॉइन वाह

डॉगकॉइन वाह

कुछ लोग डॉगकोइन को एक वैध निवेश अवसर के रूप में मानने लगे हैं। यह क्रिप्टोकुरेंसी सॉफ्टवेयर इंजीनियरों बिली मार्कस और जैक्सन पामर द्वारा जंगली क्रिप्टोकुरेंसी अटकलों पर व्यंग्य करने के लिए बनाई गई थी। दोनों आदमी शुरू में बिटकॉइन की कीमत का मजाक उड़ा रहे थे। आज, कई उपयोगकर्ता डॉगकोइन को एक व्यंग्यपूर्ण भुगतान प्रणाली के रूप में देखते हैं। हालांकि, दूसरों को संदेह है। नीचे इस डिजिटल मुद्रा के फायदे और नुकसान पर एक नजर है।

डॉगकोइन इतना अस्थिर क्यों है?

क्योंकि यह नया है, और इसकी अभूतपूर्व सफलता के कारण। साथ ही, बाजार अभी भी युवा है। साथ ही अधिक महंगा होने के कारण, डॉगकोइन ट्रेडों का निपटान और अधिकांश पारंपरिक मुद्राओं की तुलना में बहुत तेजी से मान्य होता है: इसके अलावा, इस बात की बहुत कम संभावना है कि डॉगकोइन एक स्थिर दीर्घकालिक निवेश बनाएगा। यदि आप एक अल्पकालिक निवेश की तलाश में हैं जो बड़े लाभांश का भुगतान करता है, तो कहीं और देखें।

तो, यह सवाल क्यों पूछा जाता है, “क्या आपको डॉगकोइन में निवेश करना चाहिए?” इस प्रश्न का उत्तर आपके लक्ष्यों के आधार पर बहुत भिन्न होता है। जो लोग इस प्रवृत्ति को भुनाना क्या आपको डॉगकॉइन में निवेश करना चाहिए चाहते हैं, उन्हें शायद इस पर विचार करना चाहिए। अन्य लोगों का लक्ष्य भिन्न हो सकता है, जैसे अंतर्राष्ट्रीय प्रेषण के बारे में अधिक सीखना। फिर ऐसे लोग हैं जो केवल मनोरंजन के लिए नई प्रणाली का उपयोग करना चाहते हैं। ये सभी चीजें आपके निवेश निर्णय को निर्धारित करने में मदद कर सकती हैं।

डॉगकॉइन के बारे में सीखना

हालांकि, जो क्रिप्टो सिस्टम में निवेश करने के लिए नए हैं, उन्हें अधिक सतर्क रहना चाहिए। विशेष रूप से, उन्हें नई प्रणाली पर शोध करना चाहिए और इसके बारे में सीखना चाहिए। डॉगकॉइन के बारे में बहुत सारी जानकारी उपलब्ध है, और हवा में खो जाना आसान है। सुनिश्चित करें कि आप एक स्थापित प्रणाली में निवेश करते हैं जिसका एक ठोस इतिहास है और जो बहुत सारे दस्तावेज और ट्यूटोरियल प्रदान करता है। किसी रहस्यमयी रचनाकार के साथ किसी अनजान जगह में निवेश करने से बचें!

जब आप किसी निवेश के अवसर पर शोध करते हैं, तो सुनिश्चित करें कि आप स्वयं से कुछ विशिष्ट प्रश्न पूछ रहे हैं। क्रिप्टोसिस्टम कैसे काम करता है? इसके क्या फायदे हैं? क्या यह सुरक्षित है? मैं कितनी आसानी से डॉगकॉइन खरीद और बेच सकता हूँ?

आप यह भी जानना चाहेंगे कि आपके लिए किस प्रकार के ऑफ़र उपलब्ध हैं। क्या DogeChips के साथ कोई कमीशन या शुल्क जुड़ा हुआ है? आपकी खरीद की शर्तें क्या हैं? आप अपने निवेश पर कितनी जल्दी रिटर्न प्राप्त कर सकते हैं?

DogeCoin क्या है, Dogecoin में कैसे निवेश क्या आपको डॉगकॉइन में निवेश करना चाहिए करें?

दुनियाभर के लोग अब Crypto Currency में निवेश करने लगे हैं. इस वजह से क्रिप्टो करेंसी उन्हें अच्छे रिटर्न भी दे रही है. क्रिप्टोकरेंसी में अभी तक आपने सबसे ज्यादा नाम Bitcoin का ही सुना था जो दुनिया की सबसे महँगी क्रिप्टोकरेंसी है लेकिन इसी बीच अब Dogecoin तेजी से मशहूर हो गया है. इसकी वजह Dogecoin में तेजी से किया गया निवेश. Dogecoin क्या है? Dogecoin की कीमत कितनी है? Dogecoin में कैसे निवेश कर सकते हैं? इन सभी सवालों के जवाब आपको यहाँ मिलेंगे.

Dogecoin क्या है?

Dogecoin एक क्रिप्टोकरेंसी है (What is Dogecoin in Hindi?) जिसे मज़ाक के तौर पर शुरू किया गया था. जब इसे शुरू किया था तब किसी को भी पता नहीं था की आगे चलकर Dogecoin इतना बड़ा Market Cap कर लेगी. Dogecoin Bitcoin की तरह ही एक Crypto Currency है जो Blockchain system पर क्या आपको डॉगकॉइन में निवेश करना चाहिए काम करती है. Dogecoin के सिंबल के तौर पर जिस Dog का उपयोग किया जाता है वो जापानी डॉग ब्रीड Shiba Inu है जिसके फोटो का उपयोग एक मीम के तौर पर किया गया था. Dogecoin को IBM के Software Engineer Billy Markus और Adobe के सॉफ्टवेयर इंजीनियर Jackson Palmer ने बनाया था. वे एक ऐसी डिजिटल करेंसी बनाना चाहते थे जो bitcoin से भी ज्यादा फेमस हो. इन दोनों ने इसे 6 दिसंबर 2013 को लांच किया था. इनकी ऑफिशियल वेबसाइट www.dogecoin.com पर पहले 30 दिनों में ही 10 लाख से ज्यादा विजिटर आ गए थे.

Dogecoin को एक मज़ाकिया करेंसी के तौर पर शुरू किया गया था लेकिन बाद में लोग इसमें निवेश करने लगे. साल 2013 में जब इसे शुरू किया गया था तो लोगों ने कम मात्रा में इसमें Investment किया. शुरू में हैकर ने Dogecoin को चुरा भी लिया था लेकिन बाद में कंपनी ने सब संभाल लिया और लोगों को विश्वास दिलाया कि ऐसा फिर नहीं होगा.

Dogecoin क्या आपको डॉगकॉइन में निवेश करना चाहिए की कीमत कितनी है?

Dogecoin को जब शुरू किया गया था (Dogecoin price in INR) तब इसकी कीमत 0.00026 डॉलर थी. भारतीय रुपयों मे इन्हें आँके तो ये 19 पैसे के बराबर थी. मतलब उस समय आप एक Dogecoin 19 पैसे में खरीद सकते थे. अगर वर्तमान की बात करें तो साल मई 2021 में इसकी कीमत 0.720026 डॉलर हो गई है. हालांकि इसकी कीमतें लगातार घटती और बढ़ती रहती है. भारतीय रुपये में एक Dogecoin की कीमत 52.64 रुपये है. अब आप समझ सकते हैं कि इसकी कीमत में कितना बड़ा बदलाव आया है. अगर आपने इसमें साल 2013 में 19 पैसे लगाए होते तो वो आज 52 रुपये बन गए होते.

Dogecoin के बारे में कुछ कहा नहीं जा सकता. हो सकता है इसकी कीमत यहीं स्थिर रहे या फिर ये भी हो सकता है कि आगे चलकर इसकी कीमत और भी बढ़े. जानकार कहते हैं कि Dogecoin में ये समय एक Bubble जैसा भी हो सकता है जहां इस कीमत के बाद लगातार इसकी कीमत गिरना शुरू हो जाए. इसलिए यदि आप निवेश करना चाहते हैं तो अपने खुद के निर्णय के आधार पर करें. आप किसी के कहने पर या किसी के राय देने पर इसमें निवेश न करें.

Dogecoin में कैसे निवेश करें?

भारत में पहले क्रिप्टोकरेंसी में निवेश करना प्रतिबंधित था जिसकी वजह से ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म निवेश (Indian Crypto currency trading platform) करने की सुविधा भारतीय यूजर्स को नहीं दे रहे थे लेकिन साल 2018 में नियम बदल जाने के बाद आप भारत में ही क्रिप्टोकरेंसी में निवेश कर सकते हैं और क्रिप्टोकरेंसी को भारतीय रुपयों में एक्सचेंज भी कर सकते हैं. अगर आप Dogecoin में निवेश करना चाहते हैं (How to invest in Dogecoin in Hindi?) तो Coinswitch या WazirX दोनों में से किसी एक को चुन सकते हैं. हाल ही में इन दोनों ही प्लेटफॉर्म पर Dogecoin को लिस्ट किया गया है. इसमें निवेश करने के लिए दोनों में से किसी एक प्लेटफॉर्म का एप डाउनलोड करें और उसे इन्स्टाल करें.

– एप ओपन करें और उसमें अपना मोबाइल नंबर डालकर वेरिफ़ाई करें.
– इसके बाद अपनी खुद की प्रोफ़ाइल बनाए जिसमें आपका नाम, मोबाइल नंबर और ईमेल आईडी फिल करें.
– इसके बाद आपको अपना आधार कार्ड, पैन कार्ड और बैंक डिटेल्स फिल करनी होती है.
– आधार कार्ड के लिए आपके पास आधार नंबर होना चाहिए.
– पैन कार्ड का फोटो आपके पास होना चाहिए क्योंकि उसे आपको यहाँ अपलोड करना होता है.
– बैंक की डिटेल्स जैसे अकाउंट नंबर, आईएफ़एससी कोड, ब्रांच का नाम आदि आपके पास होना चाहिए.
– ये सब करने के बाद फॉर्म सबमिट करें और सारी जानकारी वेरिफ़ाई करें.
– इसके बाद आपको अपने एप के Wallet में पैसे एड करने होते हैं. पैसे एड करने के लिए आप किसी UPI App का उपयोग कर सकते हैं या फिर Net banking, Debit card आदि का उपयोग कर सकते हैं.
– पैसा एड करने के बाद आप लिस्ट में Dogecoin को सिलेक्ट करें और जितना पैसा लगाना चाहते हैं उतना पैसा Wallet से लगाएँ.

रेटिंग: 4.20
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 219