इतना रहा स्वर्ण भंडार
आंकड़ों के अनुसार, मूल्य के संदर्भ में देश का स्वर्ण भंडार 70.5 करोड़ डॉलर घटकर 37.057 अरब डॉलर रह गया. केंद्रीय बैंक ने कहा कि विशेष आहरण अधिकार (ADR) 23.5 करोड़ डॉलर घटकर 17.39 अरब डॉलर रह गया है. RBI आंकड़ों के अनुसार अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) में रखा देश का मुद्राभंडार भी 2.7 विदेशी मुद्रा रुझान करोड़ डॉलर घटकर 4.82 अरब डॉलर रह गया है.

प्रतीकात्मक तस्वीर

India Forex Reserves: विदेशी मुद्रा कोष 1.09 अरब डॉलर घटकर 529.99 अरब डॉलर रहा, जानें कितना रहा सोने का भंडार

By: ABP Live | Updated at : 11 Nov विदेशी मुद्रा रुझान 2022 08:57 PM (IST)

प्रतिकात्मक फोटो ( Image Source : Getty )

India Forex Reserves 2022: भारतीय रिजर्व बैंक (Reserve Bank of India) की तरफ से शुक्रवार को देश के विदेशी मुद्रा भंडार (विदेशी मुद्रा रुझान Foreign Exchange Reserves) के आंकड़े जारी किये गए है. आपको बता दे कि देश का विदेशी मुद्रा भंडार 4 नवंबर को समाप्त सप्ताह में 1.09 अरब डॉलर घटकर 529.99 अरब डॉलर रह गया है. इसका कारण स्वर्ण भंडार में भारी गिरावट आई है.

RBI ने जारी किये आंकड़े
भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) द्वारा शुक्रवार को जारी साप्ताहिक आंकड़ों के अनुसार, 4 नवंबर 2022 को समाप्त सप्ताह के दौरान विदेशी मुद्रा आस्तियां (FCA) 12 करोड़ डॉलर घटकर 470.73 अरब डॉलर रह गई है. डॉलर में अभिव्यक्त किये जाने वाली विदेशी मुद्रा आस्तियों में मुद्रा भंडार में रखे यूरो (Euro), पौंड (Pound) और जापानी येन (Japanese Yen) जैसे गैर डॉलर मुद्रा के मूल्य में आई कमी या बढ़त के प्रभावों को दर्शाया जाता है.

Foreign Exchange Reserve: विदेशी मुद्रा भंडार के मोर्चे पर मिली अच्छी खबर, एक साल में विदेशी मुद्रा रुझान सबसे तेज गति से बढ़ा

Foreign exchange reserves crossed $ 544 billion

विदेशी मुद्रा भंडार पहुंचा विदेशी मुद्रा रुझान 544 अरब डॉलर के पार

  • विदेशी मुद्रा भंडार के मोर्चे पर अच्छी खबर मिली है
  • बीते 11 नवंबर को समाप्त सप्ताह के दौरान देश के विदेशी मुद्रा भंडार में एक साल से ज्यादा की सबसे तेज वृद्धि दर्ज की गई है। इसके साथ ही अपना विदेशी मुद्रा भंडार 544 अरब डॉलर के पार चला गया

इस साल की शुरूआत में अपना विदेशी मुद्रा भंडार संतोषजनक स्तर पर था। लेकिन विदेशी मुद्रा रुझान इसी साल रुपये के मूल्य में गिरावट भी देखने को मिली। इसी गिरावट को रोकने के लिए रिजर्व बैंक को डॉलर खुले बाजार में बेचना पड़ रहा है। इसका असर दिखा और बीते सितंबर के मध्य के बाद रुपया पहली बार डॅालर के मुकाबले 80 के स्तर के करीब पहुंचा।

रेटिंग: 4.44
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 776